आई.टी.आई के उपरांत- 

​रोजगार -

1-सभी प्रान्तों के विघुत  बोर्ड में I 

2-रेलवे लोको पायलट (ड्राइवर) एवं टेकनीशियन के रूप में |

​3-भारत संचार द्वारा संचालित उपक्रम में  I 

4-शासकीय ,अर्द्ध शासकीय सेवा में |

5-सार्वजनिक /लिमिटेड फैक्ट्रीयों में |

​6-ऑटोमोबाइल वर्कशॉप में |

7-सेना, शीपयार्ड, हवाईजहाज बनाने के कारखाने, रक्षा एवं                     अनुसंधान विभाग कारखानों के टेकनीशियन के रूप में |

8-लेथ, वेल्डिंग, सी.एन.सी. मशीन ऑपरेटर के रूप में |

9-विभिन्न सरकारी प्राइवेट I.T.I. पॉलिटेक्निक, इंजीनियरिंग  कॉलेज में     इलेक्ट्रीशियन अनुदेशक के रूप में।

स्वरोजगार-

1-शहरी व ग्रामीण में मोटरों व स्टार्टरों की मरम्मत सेवा केंद्र की                 स्थापना कर सकते है | 

2-स्वयं का विधुत सामग्री का व्यवसाय शुरू कर सकते है |

3-घरेलु व पावर वायरिंग कर सकते है |

4-बैट्री  की मरम्मत ,चार्जिंग ,नयी बैट्री  का निर्माण कर सकते है |

5-शादियों व जन्मदिन कार्यक्रमों  में  लाइट डेकोरेशन कर सकते है |

​6-विधुत यंत्रो की सेवा केंद्र स्थापित कर सकते है |

​7-कारखाना खोल कर स्वयं अन्य साथियों को नियोजित करना |

राष्ट्र के विकास में उद्योगों का महत्वपूर्ण योगदान है, उद्योगों के सफल संचालन एवं गुणवक्ता युक्त उत्पादन के लिए कुशल श्रमिकों की आवश्यकता होती है I इसके अतिरिक्त आम नागरिक को भी दैनिक जीवन में आवश्यक सेवाओं की मांग होती है I इसी उद्देश्य से औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों (Industrial Training Institute) में तकनीकी रूप से दक्ष कुशल कर्मचारी तैयार करने हेतु प्रशिक्षण दिया जाता है I

इन प्रशिक्षण संस्थाओं में विभिन्न ट्रेड जैसे- इलेक्ट्रीशियन, फिटर, मोटर मैकेनिक,मैकेनिक डीजल, इलेक्ट्रॉनिक मैकेनिक आदि का सैद्धांतिक एवं प्रायोगिक प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है I

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में राष्ट्रीय व्यवसायिक प्रशिक्षण परिषद् (NCVT) भारत सरकार के तत्वावधान में दस्तकार प्रशिक्षण योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित किये जाते है I NCVT योजनान्तर्गत राष्ट्रीय स्तर की परीक्षाएं सम्पूर्ण भारत में एक साथ आयोजित करायी जाती है और परीक्षा में सफल छात्रों को NCVT द्वारा प्रमाण पत्र प्रदान किया जाता है I

​आई.टी.आई. के छात्रों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए सरकार द्वारा ढेरो कदम उठाये जाते है स्किल इंडिया, मेक इन इंडिया जैसी योजनायें छात्रों को प्रोत्साहन देती हैI रेलवे और विद्युत विभाग में विभिन्न पदों पर नियुक्ति हेतु योग्यता आई.टी.आई. ही निर्धारित है I