फिटर 

प्रशिक्षण अवधि – 2 वर्ष (4 सेमेस्टर)
प्रशिक्षण का विषय :

01. मैकैनिकल इंजीनियरिंग विषय की सम्पूर्ण जानकारी|

 

02. मेजरिंग, मार्किंग ,कटिंगटूल, एवं अन्य टूल्स की जानकारी|
 

03. हैक्साविग ,फाईलिंग, ड्रिलिंग, रिमिंग, टैपिंग, एवं स्क्रेपिंग 
      इत्यादि विधि से मशीन के पार्ट्स बनाने की जानकारी|

 

04. सूक्ष्म मापक औजार(Precision Measuring 
      Instruments),मेटल का ज्ञान, इंजीनिरिंगड्राइंग, वर्कशॉप, 
      कैलकुलेशन इत्यादि की जानकारी| 

 

05. विभिन्न मशीन जैसे लेथ, ड्रीलिंग वेल्डिंग, ग्राइंडिंग,  फोर्जिंग,            पलम्बर के कार्यो के साथ विभिन्न प्रकार के मशीनों का कटिंग,            फीडकटकीग डाई,थ्रेड एवं गीयर  कैलकुलेशन की जानकारी के        साथ- साथ मशीनों की  मेंटेनन्स की जाकारी दी जाती है| 
 

06. कम समय में अधिक  कार्य करने की जानकारी| 
 

07. स्वरोजगार (Self Employment)की जानकारी |

प्रशिक्षुओं द्वारा निर्मित हस्तचालित औसाई यंत्रI