II ​प्रशिक्षित युवा II बुलन्द भारत II लक्ष्य हमारा II   

हमारे नजर में आई.टी.आई. दुनिया की ऐसी डिग्री है जिसे पाकर छात्र अपने कम से कम आयु में एक अच्छे स्तर की नौकरी पा सकता है परन्तु हमारे समाज में आई.टी.आई. की छवि केवल प्रमाण पत्र पाने तक ही रह गयी है हमारे अभिभावक से लेकर छात्र नक़ल को जरिया बनाकर आई.टी.आई कि डिग्री हासिल कर लेने में बहादुरी समझ रहे है, किन्तु हमारा संस्थान इसके विरुद्ध है हमारा लक्ष्य छात्रों को बेहतर ट्रेनिंग देना है हमारा उद्देश्य गरीब से लेकर अमीर छात्रों के हाथो में तकनीकी का हुनर प्रदान करना है ताकि छात्र दो साल की प्रशिक्षण अवधि पूर्ण करने के पश्चात् अपने पैरो पर खड़ा हो सके|

हमारा लक्ष्य छात्र के व्यव्क्तित्व को इतना मजबूत बनाना है कि वो अपनी, अपने माता- पिता की हर उम्मीद को पूरा कर सके और अपने जीवन को एक मुकाम तक पंहुचा सके हम छात्रों को विभिन्न अवसर उपल्बध करा कर उनके जीवन स्तर को बेहतर बनाना चाहते है|

हम समाज में आई.टी.आई कि एक अलग पहचान बनाना चाहते है जिससे बेरोजगार अपने सपनो को पूरा कर सके और देश को विकसित बनाने में अपना योगदान दे सके|

                                                -सुरेन्द्र कुशवाहा